महाविद्यालय का संक्षिप्त परिचय

1
2
3
4
5
1 2 3 4 5

श्री परमहंस शिक्षण प्रशिक्षण स्नातकोत्तर महाविद्यालय अयोध्या जनपद का उच्च शिक्षा के क्षेत्र में एकमात्र अग्रणी महाविद्यालय है | यह महाविद्यालय डॉ० राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय से सम्बद्ध है | इस महाविद्यालय का शिल्यान्यास भगवान श्री राम की पावन नगरी अयोध्या में ‘सिद्धो की सराय‘ के नाम से प्रसिद्ध मणि पर्वत के निकट विद्याकुंड नामक स्थान पर अक्षय तृतीया के दिन वर्ष २००५ में हुआ | वर्ष २००७ में शासन से कला संकाय अंतर्गत बी० ए० पाठयक्रम संचालन हेतु सम्बद्धता प्राप्त हुई तथा अध्यापन कार्य प्रारंभ हुआ| वर्ष २००९ में बी० एड० पाठ्यक्रम की मान्यता प्राप्त हुई | वर्ष २०१२ में कला संकाय के अंतर्गत परास्नातक स्तर पर गृह विज्ञान एवं समाजशास्त्र विषयों में अध्यापन कार्य प्रारंभ हुआ| वर्ष २०१३ में वाणिज्य संकाय अंतर्गत बी० कॉम० एवं कृषि संकाय अंतर्गत बी० एस-सी० (कृषि) की मान्यता प्राप्त हुई एवं अध्यापन कार्य प्रारंभ हुआ | सत्र २०१६-१७ से महाविद्यालय में विज्ञान संकाय अंतर्गत स्नातक स्तर पर रसायन विज्ञान, जन्तु विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, भौतिक विज्ञान, एवं गणित विषयों में तथा परास्नातक स्तर पर कला संकाय अंतर्गत राजनीति शास्त्र एवं हिंदी साहित्य विषयों में अध्यापन कार्य प्रारंभ हुआ |
सत्र २०१७-१८ से परास्नातक स्तर पर वाणिज्य संकाय अंतर्गत एम0 कॉम0, परास्नातक स्तर पर कला संकाय अंतर्गत एम0 ए0 भूगोल तथा परास्नातक स्तर पर कृषि संकाय के अंतर्गत हार्टीकल्चर एवं एग्रोनॉमी विषय में एम0 एस-सी0 कृषि पाठ्यक्रम का संचालन प्रारम्भ हुआ।
सत्र २०२०-२१ से स्नातक स्तर पर कला संकाय अंतर्गत मनोविज्ञान एवं कंप्यूटर एप्लीकेशन तथा परास्नातक स्तर पर विज्ञान संकाय अंतर्गत एम0 एस-सी0 भौतिक शास्त्र एवं गणित तथा परास्नातक स्तर पर कृषि संकाय अंतर्गत Agricultural Chemistry and Soil Science , Genetics and Plant Breeding एवं Animal Husbandry and Dairying विषयों में अध्यापन कार्य प्रारम्भ होने की पूर्ण संभावना है | महाविद्यालय निरन्तर प्रगति पथ पर अग्रसर है |

National Council For Teacher Education